51 / 100

 

(Heat)
ऊष्मा वह ऊर्जा है, जो एक वस्तु से दूसरी वस्तु में तापान्तर के कारण उत्पन्न होती है। ऊष्मा सदैव ऊँचे ताप वाली वस्तु से नीचे ताप वाली वस्तु में प्रवाहित होती है। ऊष्मा को कैलोरी, किलोकैलोरी या जूल में मापा जाता है।

कैलोरी (Calorie)
1 ग्राम जल का ताप 14.5°C से 15.5°C तक बढ़ाने के लिए आवश्यक ऊष्मा की मात्रा 1 कैलोरी कहलाती है।

1 कैलोरी = 4.2 जूल
1 किलोकैलोरी = 1000 कैलोरी
= 4.2×103 जूल