गुरुत्वीय त्वरण से क्या तात्पर्य है | मान तथा मात्रक

83 / 100

गुरुत्वीय त्वरण से क्या तात्पर्य है

गुरुत्वीय त्वरण से क्या तात्पर्य है

प्रश्न – गुरुत्वीय त्वरण से क्या तात्पर्य है ? इसका आंकिक मान तथा मात्रक बताइए।

उत्तर : गुरुत्वीय त्वरण-पृथ्वी पर स्वतन्त्र रूप से गिरती हुई किसी वस्तु के वेग में 1 सेकण्ड में होने वाली वृद्धि को गुरुत्वीय त्वरण कहते हैं। इसे ‘g’ से प्रदर्शित करते हैं। g के मान पर वस्तु के रंग रूप, द्रव्यमान, आकार आदि का कोई प्रभाव नहीं होता है।

यदि किसी वस्तु का द्रव्यमान m हो, तो वस्तु पर कार्य करने वाला गुरुत्वीय बल, वस्तु के भार (mg)के बराबर होगा । अतः गुरुत्वीय त्वरण परिमाण में उस बल के बराबर होता है जिससे पृथ्वी एकांक द्रव्यमान की वस्तु को अपने केन्द्र की ओर आकर्षित करती है ।

इस प्रकार g का मात्रक न्यूटन/किग्रा भी होता है

गुरुत्वीय त्वरण का आंकिक मान एवं मात्रक-गुरुत्वीय त्वरण g का आंकिक मान 9.8 पीटर / सेकण्ड है।

S.I. पद्धति में g के मात्रक (i) मीटर/सेकण्ड तथा (ii) न्यूटन/किग्रा हैं।

Physics Important Question

प्रश्न1- जड़त्व किसे कहते हैं ? जड़त्व कितने प्रकार के होते हैं? उदाहरण देकर समझाइए।

प्रश्न2- तरंगाग्र किसे कहते हैं? हाइगेन्स के द्वितीयक तरंगिकाओं का सिद्धान्त लिखिए।

प्रश्न3- अदिश राशियाँ (Scalar Quantities) क्या है? सदिश राशियाँ Vector Quantities) क्या है? इस क्या अन्तर होती हैं

प्रश्न4 – दूरी तथा विस्थापन से क्या तात्पर्य है ? ये कैसी राशियाँ हैं? इनके मात्रक भी लिखिए।दूरी तथा विस्थापन में क्या अन्तर है ? उदाहरण देकर स्पष्ट कीजिए।

प्रश्न5- प्रकाश के व्यतिकरण से क्या तात्पर्य है?| इसके लिए आवश्यक प्रतिबन्ध क्या हैं? (2011, 12, 13, 14, 15, 16, 19)

प्रश्न6- बन्धन ऊर्जा वक्र बनाइए तथा इसके आधार पर निम्नलिखित को स्पष्ट कीजिए:
(i) नाभिकीय विखण्डन,
(ii) नाभिकीय संलयन (2019, 20)

गुरुत्वीय त्वरण से क्या तात्पर्य है,गुरुत्वीय त्वरण से क्या तात्पर्य है,गुरुत्वीय त्वरण से क्या तात्पर्य है,गुरुत्वीय त्वरण से क्या तात्पर्य है