79 / 100

गुरुत्वीय त्वरण g तथा गुरुत्वाकर्षण नियतांक G में सम्बन्ध

गुरुत्वीय त्वरण g तथा गुरुत्वाकर्षण नियतांक G में सम्बन्ध

प्रश्न- गुरुत्वीय त्वरण g तथा गुरुत्वाकर्षण नियतांक G में सम्बन्ध स्थापित कीजिए।

उत्तर : g तथा G में सम्बन्ध-माना पृथ्वी का द्रव्यमान Mₑ तथा त्रिज्या Rₑ है । यदि m द्रव्यमान की कोई वस्तु पृथ्वी तल पर अथवा उसके निकट स्थित हो,तो

गुरुत्वाकर्षण के नियमानुसार,
पृथ्वी द्वारा वस्तु पर लगाया गया आकर्षण बल
F =G Mₑm/R²ₑ ………(1)

क्योंकि गुरुत्व बल F के कारण ही वस्तु में त्वरण g उत्पन्न होता है,

अतः न्यूटन के गति विषयक नियम (बल = द्रव्यमान x त्वरण) से,
F = mg …..…(2)

समीकरण (1) व समीकरण (2) से,
mg = GMem/Re
अथवा g = GMe/R2e

यही g तथा G में सम्बन्ध है ।

चूँकि इस सूत्र में m नहीं है अतः गुरुत्वीय त्वरण (g) का मान वस्तु के द्रव्यमान पर निर्भर नहीं करता है।

गुरुत्वीय त्वरण g तथा गुरुत्वाकर्षण नियतांक G में सम्बन्ध

Physics Important Question

प्रश्न1- जड़त्व किसे कहते हैं ? जड़त्व कितने प्रकार के होते हैं? उदाहरण देकर समझाइए।

प्रश्न2- तरंगाग्र किसे कहते हैं? हाइगेन्स के द्वितीयक तरंगिकाओं का सिद्धान्त लिखिए।

प्रश्न3- अदिश राशियाँ (Scalar Quantities) क्या है? सदिश राशियाँ Vector Quantities) क्या है? इस क्या अन्तर होती हैं

प्रश्न4 – दूरी तथा विस्थापन से क्या तात्पर्य है ? ये कैसी राशियाँ हैं? इनके मात्रक भी लिखिए।दूरी तथा विस्थापन में क्या अन्तर है ? उदाहरण देकर स्पष्ट कीजिए।

प्रश्न5- प्रकाश के व्यतिकरण से क्या तात्पर्य है?| इसके लिए आवश्यक प्रतिबन्ध क्या हैं? (2011, 12, 13, 14, 15, 16, 19)

प्रश्न6- बन्धन ऊर्जा वक्र बनाइए तथा इसके आधार पर निम्नलिखित को स्पष्ट कीजिए:
(i) नाभिकीय विखण्डन,
(ii) नाभिकीय संलयन (2019, 20)

ITI Question Bank

Leave a Comment