लेन्स किसे कहते हैं free pdf 2022

88 / 100

लेन्स किसे कहते हैं? समझाइए।

उत्तर : लेन्स-दो गोलीय पृष्ठों अथवा एक गोलीय एवं एक समतल पृष्ठ से घिरे पारदर्शी माध्यम को लेन्स कहते हैं

ये कितने प्रकार के होते हैं ?

लैन्स दो प्रकार के होते हैं
(1) उत्तल लैन्स – ये बीच में मोटे तथा किनारों पर पतले होते हैं। इन्हें अभिसारी लैन्स कहते हैं क्योंकि ये प्रकाश की समान्तर किरणों को एक बिन्दु पर एकत्रित करते हैं।
(2) अवतल लैन्स – ये बीच में पतले तथा किनारों पर मोटे होते हैं। इन्हें अपसारी लैन्स कहते हैं क्योंकि ये प्रकाश की किरणों कोऔर अधिक फैला देते हैं।

लेन्स किसे कहते हैं free pdf

दिये गये चित्रों में C प्रकाशिक केन्द्र है जिससे गुजरने वाली प्रकाश की किरण बिना विचलित हुये सीधी निकल जाती है FCF मुख्य अक्ष कहलाता है । F’ प्रथम फोकस तथा F द्वितीय फोकस कहलाते हैं। प्रथम फोकस मुख्य अक्ष पर स्थित वह बिन्दु है
जिससे चलने वाली किरणें अपवर्तन के पश्चात् मुख्य अक्ष के समान्तर हो जाती हैं तथा द्वितीय फोकस मुख्य अक्ष पर स्थित वह बिन्दु है जिस पर मुख्य अक्ष के समान्तर चलने वाली किरणें अपवर्तन के पश्चात् मिलती हैं ।

CF’=f, प्रथम फोकस दूरी कहलाती है तथा CF=f, द्वितीय फोकस दूरी कहलाती है। यदि लैन्स के दोनों ओर एक ही
माध्यम हैं तब दोनों फोकस दूरियाँ बराबर होती हैं।

2-उत्तल लैन्स से प्रतिबिम्बों का बनना-वस्तु की विभिन्न स्थितियों में प्रतिबिम्ब बनाने के लिये ,वस्तु के एक किरण मुख्य अक्ष
के समान्तर लेते हैं जो अपवर्तन के पश्चात् फोकस को चलती जाती है और एक दूसरी किरण प्रकाशिक केन्द्र से जाती हुई लेते हैं जो अपवर्तन के पश्चात् बिना विचलित हुए सीधी निकल जाती है। जहाँ ये दोनों किरणें मिलती हैं, वहीं प्रतिबिम्ब बनता है जैसा कि नीचे के चित्रों में स्पष्ट है

लेन्स किसे कहते हैं free pdf

लेन्स किसे कहते हैं,लेन्स किसे कहते हैं,लेन्स किसे कहते हैं,लेन्स किसे कहते हैं,लेन्स किसे कहते हैं,लेन्स किसे कहते हैं,

बिना स्पर्श किए हुए आप उत्तल लेन्स, अवतल लेन्स तथा काँच की
वृत्ताकार पट्टिका को कैसे पहचानोगे?

उत्तर:लेन्सों की पहचान लेन्सों की पहचान निम्नलिखित प्रकार सेसे की जाती है
(1)- उत्तल लेन्स, अवतल लेन्स व काँच की पट्टिका को मुद्रित अक्षरों के ऊपर रखकर ऊपर उठाने से यदि अक्षरों का आकार बढ़ता दिखाई दे, तो वह उत्तल लेन्स होगा, और यदि अक्षरों का आकार छोटा दिखाई दे तो वह अवतल लेन्स होगा, और यदि अक्षरों का आकार समान रहे तो वह काँच की वृत्ताकार पट्टिका होगी।
(2)- उत्तल लेन्स बीच में मोटा तथा किनारों पर पतला होता है, जबकि अवतल लेन्स बीच में पतला तथा किनारों पर मोटा होता है।

प्रश्न – किस लेन्स द्वारा बना प्रतिबिम्ब सदैव आभासी व छोटा होता है ?
उत्तर : अवतल लेन्स द्वारा।
प्रश्न – लेन्स की क्षमता का मात्रक लिखिए। अथवा चश्मों के लेन्सों की क्षमता किसमें नापते हैं?
उत्तर: लेन्स की क्षमता डायोप्टर में मापते हैं।
प्रश्न – एक व्यक्ति अपने सामने रखे दर्पण में अपने से बड़ा प्रतिबिम्ब देख रहा है, दर्पण कैसा है ?
उत्तर : यह अवतल दर्पण है
प्रश्न – घड़ीसाज किस प्रकार का लेन्स प्रयुक्त करते हैं ?
उत्तर : कम फोकस दूरी का उत्तल लेन्स ।
प्रश्न – कैमरे में किस प्रकार के लेन्स का प्रयोग किया जाता है ?
उत्तर : उत्तल लेन्स का।

Important Questions………..

लेन्स किसे कहते हैं
अवतल दर्पण किसे कहते है अवतल दर्पण के उपयोग