thermal conductivity in hindi | usma chalakta kya hai free pdf 2022

86 / 100

thermal conductivity in hindi

ऊष्मा चालकता से क्या तात्पर्य है? ऊष्मा चालकता के आधार पर पदार्थों को कितनी श्रेणियों में बाँटा गया है ? स्पष्ट कीजिए।
उत्तर : ऊष्मा चालकता–पदार्थों का वह गुण, जिसके कारण उनमें चालन द्वारा ऊष्मा संचरण होता है, ऊष्मा चालकता कहलाता है । क्योंकि भिन्न-भिन्न पदार्थों की ऊष्मा चालकताएँ भिन्न-भिन्न होती हैं, अतः कुछ वस्तुएँ जल्दी गर्म हो जाती हैं (जैसे-लोहे की छड़); तथा कुछ वस्तुएँ बहुत देर से गर्म होती हैं (जैसे लकड़ी का हत्था)।

ऊष्मा चालकता के आधार पर पदार्थों की श्रेणियाँ-ऊष्मा-चालकता के आधार पर पदार्थों को तीन श्रेणियों में बाँटा गया है ;-
1- सुचालक-वे पदार्थ, जिनमें ऊष्मा का संचरण चालन विधि से आसानी से तथा शीघ्रता से होता है,ऊष्मा के सुचालक कहलाते है । आदर्श सुचालक की ऊष्मा चालकता अनन्त होती है। सभी धातुएँ जैसे-ऐलुमिनियम, सोना,चाँदी,ताँबा आदि ऊष्मा की सुचालक होती हैं । जैसे–चाँदी की ऊष्मा चालकता सबसे अधिक होती है।

2- कुचालक-वे पदार्थ,जिनमें ऊष्मा का संचरण चालन विधि से बहुत कम हो पाता है अर्थात् जिनकी ऊष्मा चालकता बहुत कम होती है, ऊष्मा के कुचालक कहलाते हैं। आदर्श कुचालक की ऊष्मा चालकता शून्य होती है। जैसे-काँच,रबर,लकड़ी,जल, अधिकतर द्रव (पारे को छोड़कर) तथा गैसें ऊष्मा की कुचालक हैं।

3-ऊष्मारोधी-वे पदार्थ, जिनकी ऊष्मा चालकता शून्य होती है अर्थात् जिनमें ऊष्मा का चालन बिल्कुल नहीं होता, ऊष्मारोधी कहलाते हैं । वास्तव में कोई भी पदार्थ पूर्णतः ऊष्मारोधी नहीं है, फिर भी ऐबोनाइट तथा एस्बेस्टॉस को ऊष्मारोधी माना जा सकता है।

thermal conductivity in hindi

Short Questions and Answers ………

1-अच्छे व हवादार कमरों में रोशनदान लगाए जाते हैं क्यों ?
इसका कारण यह है कि कमरे की गर्म व दूषित वायु हल्की होने के कारण ऊपर उठ कर रोशनदान से बाहर चली जाती है और ठण्डी शुद्ध वायु उसके स्थान पर खिड़की व दरवाजों से कमरे में आ जाती है।

2- कारखानों में गर्म वायु व धुआँ निकालने के लिए चिमनी काफी ऊँची बनाई जाती है क्यों ?
इसका कारण यह है कि जिससे दूषित वायु कारखाने में न फैले भट्ठियों द्वारा निकली गर्म वायु व धुआँ हल्का होने के कारण ऊपर उठता है तथा चिमनी से बाहर निकल जाता है । इसका स्थान लेने के लिए नीचे से शुद्ध वायु (ऑक्सीजन) भट्ठी में पहुँचती है।

3- लालटेन के ऊपर व नीचे छिद्र होते हैं क्यों ?
इसका कारण यह है कि लालटेन की बत्ती के जलने से चिमनी के अन्दर की वायु गर्म होकर ऊपर उठती है तथा ऊपर के छिद्रों से बाहर निकल जाती है। इसका स्थान लेने के लिए वायु नीचे के छिद्रों से अन्दर आ जाती है। इस प्रकार लालटेन में संवहन धाराएँ उत्पन्न हो जाती हैं जिससे बत्ती को जलने के लिए आवश्यक ऑक्सीजन मिलती रहती है। यदि लालटेन के ऊपर व नीचे छिद्र न हों तो लालटेन बुझ जाएगी।

4-फ्रिज (Fridge) में शीतलन कुण्डलियाँ ऊपर की ओर लगी होती हैं क्यों ?
इसका कारण यह है कि मोटरद्वारा व्यय ऊष्मा गर्म वायु के रूप में ऊपर उठती है तथा ठण्डी वायु भारी होकर नीचे बैठती है। इस प्रकार फ्रिज में संवहन धाराएँ उत्पन्न हो जाती हैं । अतः फ्रिज में ठण्डक बनी रहती है।

5- समुद्री समीर-समुद्र तटीय क्षेत्रों में दिन के समय भूमि समुद्र तल अथवा जल की अपेक्षा अधिक गर्म हो जाती है, अत: भूमि तल के ऊपर की वायु गर्म होने के कारण ऊपर उठती है तथा उसका स्थान समुद्र के ऊपर की ठण्डी वायु लेने लगती है । इसे समुद्री समीर (sea breeze) कहते हैं यह दिन के समय चलती है । इसे चित्र 7.7 में दिखाया गया है । इस प्रकार संवहन धाराओं के कारण ही समुद्री समीर उत्पन्न होती है।

thermal conductivity in hindi

6- स्थलीय समीर-समुद्र तटीय क्षेत्रों में रात के समय समुद्र के पास की भूमि समुद्र तल की अपेक्षा विकिरण द्वारा शीघ्र ठण्डी हो जाती है। अतः समुद्र तल से गर्म वायु ऊपर की ओर उठती है तथा उसका स्थान लेने के लिए समुद्र के पास के स्थल से ठण्डी वायु समुद्र की ओर चलती है। इसे स्थलीय समीर (land breeze) कहते हैं। इसे चित्र 7.8 में दिखाया गया है । इस प्रकार संवहन धाराओं के कारण ही स्थलीय समीर उत्पन्न होती है। यह रात के समय चलती है।

thermal conductivity in hindi
thermal conductivity in hindi

7- मानसून– वायुमण्डल में उत्पन्न संवहन धाराएँ ही मानसून हैं जिनके कारण वर्षा ऋतु में वर्षा होती है। अप्रैल से सितम्बर तक के गर्मी के मौसम में कर्क रेखा पर ताप अधिक होता है, अतः वहाँ की वायु गर्म होकर ऊपर उठती है तथा इस क्षेत्र के खाली स्थान को भरने के लिए हिन्द महासागर से ठण्डी जलवाष्प युक्त वायु आती है जिसके कारण वर्षा होती है।

thermal conductivity in hindi,thermal conductivity in hindi | usma chalakta kya hai free pdf 2022

Important questions…………

thermal conductivity in hindi,thermal conductivity in hindi | usma chalakta kya hai free pdf 2022,thermal conductivity in hindi ,thermal conductivity in hindi,thermal conductivity in hindi,thermal conductivity in hindi,thermal conductivity in hindi,thermal conductivity in hindi